Join WhatsApp GroupJoin Now
Join Telegram GroupJoin Now
सबसे पहले न्यूज़ के लिए फॉलो करेंFollow Now

Bhajan Lal Sharma Is Rajasthan New CM | भजन लाल शर्मा बने राजस्थान के नए मुख्यमंत्री, जाने राजस्थान के नए मुख्यमंत्री के बारे में रोचक तथ्य

Bhajan Lal Sharma Is Rajasthan New CM :- काफी लंबे समय का इंतजार करने के बाद आखिरकार राजस्थान को नया मुख्यमंत्री मिल गया है. गौरतलब है कि राजस्थान विधानसभा के लिए चुनाव के लिए मतदान 25 नवंबर 2023 को किया गया. उसके बाद 3 दिसंबर 2023 को राजस्थान की विधानसभा के लिए मतगणना हुई. और राजस्थान में बीजेपी को बहुमत प्राप्त हुआ. राजस्थान में बीजेपी को कल 115 सीटे प्राप्त हुई. बीजेपी को बहुमत से 14 अतिरिक्त सीटे प्राप्त हुई. 3 दिसंबर 2023 के मतगणना के बाद लगभग 10 दिन के बाद आज 12 दिसंबर 2023 को राजस्थान के नए मुख्यमंत्री की घोषणा की गई. इस लेख के माध्यम से हम आपको Bhajan Lal Sharma Rajasthan New Chief Minister की जानकारी उपलब्ध करवाएंगे.

Bhajan Lal Sharma Is Rajasthan New CM | भजन लाल शर्मा बने राजस्थान के नए मुख्यमंत्री, जाने राजस्थान के नए मुख्यमंत्री के बारे में रोचक तथ्य

Rajasthan New CM Announcement

राजस्थान में Rajasthan New CM Announcement का इंतजार अब समाप्त हो चुका है. क्योंकि 12 दिसंबर 2023 को भाजपा विधायक दल की बैठक हुई. विधायक दल की बैठक के बाद भजन लाल शर्मा को राजस्थान के नए मुख्यमंत्री के रूप में चुन लिया गया है. 11 दिसंबर 2023 को भाजपा ने चौंकाते हुए मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के रूप में मोहन यादव का चुनाव किया. इसी प्रकार राजस्थान में भी चौंकाने वाले नाम की घोषणा की गई. यानी अब राजस्थान के नए मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा होंगी।

भजन लाल शर्मा बने राजस्थान की नई मुख्यमंत्री

राजस्थान में मुख्यमंत्री के चुनाव के लिए तीन पर्यवेक्षक बनाए गए थे. जिनमे सबसे बड़ा नाम देश के रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह थे. राजस्थान के मुख्यमंत्री के लिए काफी नाम चर्चा का विषय बने हुए थे. लेकिन बीजेपी ने चौंकाते हुए भजन लाल शर्मा को नए मुख्यमंत्री के रूप में चुना गया है. भजन लाल शर्मा का नाम पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रस्ताव के रूप में रखा. और सभी विधायक दल ने Bhajan Lal Sharma Is Rajasthan New CM के रूप में भजनलाल शर्मा का चुनाव कर लिया।

कौन है राजस्थान के नए मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा?

राजस्थान को आखिरकार अपना मुख्यमंत्री मिल गया है. भारतीय जनता पार्टी ने चौंकाते हुए राजस्थान के नए मुख्यमंत्री के रूप में भजन लाल शर्मा को तरजीह दी है. आप सभी लोग यह जानना चाहते हैं कि राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में भजन लाल शर्मा पहली पसंद कैसे बने. दरअसल भजनलाल शर्मा भरतपुर जिले के अटारी गांव से हैं. इन्होंने पहले भरतपुर से ही चुनाव लड़ने के लिए पार्टी को कहा था. लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने राजस्थान की सबसे सुरक्षित सीट सांगानेर से भजन लाल शर्मा को चुनाव लड़वाया। भजनलाल शर्मा बेहद साधारण परिवार से आने वाले हैं किसान परिवार से हैं. उनके पिता चाहते थे कि भजन लाल शर्मा अध्यापक बने. इसीलिए उनके पिता ने उन्हें B.ed डिग्री दिलवाई. लेकिन भजन लाल शर्मा की किस्मत हो रही थी. जिनके कारण आज भी राजस्थान के नए मुख्यमंत्री चुने गए.

सन 2000 में सरपंच पद के लिए चुने गए थे राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा

राजस्थान के नए मुख्यमंत्री ने पहले सरपंच के लिए चुनाव लड़ा. वैसे सक्रिय राजनीति में भजन लाल शर्मा 35 साल से है. उन्होंने अपनी दसवीं की पढ़ाई 1984 में नंदबई कस्बे से की. दसवीं कक्षा के दौरान ही वे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के संपर्क में आ गए. उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई 1989 में एमएसजे कॉलेज भरतपुर से की. जबकि पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री राजस्थान यूनिवर्सिटी (प्राइवेट) से राजनीतिक शास्त्र में एमए किया।

उसके बाद सबसे पहले उन्हें नंदबई मंडल से एबीवीपी के अध्यक्ष के रूप में चुना गया. उसके बाद लगातार पार्टी में वह कार्य करते रहे और उन्हें पार्टी में तरक्की मिलती मिलती रही. उसके बाद उन्हें भाजपा में जिला मंत्री, जिला महामंत्री और जिला अध्यक्ष का पद भी दिया गया और सबसे अंत में उन्हें पार्टी में प्रदेश के महामंत्री का पद दिया गया. सन 2000 में वह अटारी गांव से सरपंच बने उसके बाद वे 2010 से 2015 के बीच पंचायत समिति अटारी से पंचायत समिति सदस्य रहे. इसी बीच 2014 से 16 के बीच में प्रदेश उपाध्यक्ष भी रहे.

जाने भजन लाल शर्मा के परिवार के बारे में

भजन लाल शर्मा के पिता एक किसान हैं. जबकि उनकी माताजी गौतमी देवी हाउसवाइफ है. भजन लाल शर्मा के दो संताने हैं. बड़ा बेटा आशीष आरएएस की तैयारी कर रहा है. जबकि छोटा बेटा एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी कर चुका है. भजनलाल शर्मा की तीन छोटी बहनें हैं. भजन लाल शर्मा का पैतृक गांव लखनपुर क्षेत्र की अटारी है गांव में है. लेकिन भजन लाल शर्मा स्वयं मालवीय नगर जयपुर में रहते हैं.

राजस्थान के नए मुख्यमंत्री के रूप में प्रधानमंत्री की पहली पसंद भजनलाल शर्मा ही क्यों?

भाजपा ने चौंकाते हुए भजन लाल शर्मा को नए मुख्यमंत्री के रूप में चुना है इसके पीछे 3 साल पूर्व ही प्लानिंग हो चुकी थी. दरअसल भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री के लिए सबसे सुरक्षित सीट सांगानेर को चुना। सांगानेर सीट से लाहोटी की टिकट काटकर भजन लाल शर्मा को दिया गया. दरअसल जयपुर में मोदी की सभा में भजन लाल शर्मा पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और प्रधानमंत्री के ठीक पीछे वाली सीट पर बैठे थे. एवं बीच-बीच में प्रधानमंत्री से बातचीत भी हो रही थी.

भजन लाल शर्मा संघ से जुड़े हुए व्यक्ति हैं. इन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन में सक्रिय रूप में भागीदारी ली. और वे सक्रीय रूप से संगठन में कार्य कर रहे थे. प्रधानमंत्री द्वारा सामान्य वर्ग के चेहरे को मुख्यमंत्री बनाकर 2024 के चुनाव को साधा है. इसके अलावा उन्हें ग्रास रूट से कार्य करने का अनुभव है. चुनाव से पहले गृहमंत्री की मुलाकात से यह तय हो गया था कि राजस्थान के नए मुख्यमंत्री रूप में इन्हें चुना जाएगा। लेकिन इसकी भनक किसी को भी नहीं लगी.

WhatsApp Group Join Now